Chaitanya devi jhanki 2016

​बैतुल 10/10/16: नवरत्र के पवन अवसर पर स्थानिय सेवाकेन्द्र पर भव्य नव देवियो कि झांकी का आयोजन किया गया . 35 फीट उंची बनी पहाडी से देवीया बारी बारी से प्रकट होती है . साथ ही मंत्र उच्चारण अवम स्तुति से वतावरण भक्ती पूर्ण हो जाता था . सभी मंत्र मुग्ध होकर देखते रह्ते थे . बैतुल जिले भर से तकरिबन 50-60 हजार लोगो ने झांकी के दर्शन किये , प्रमुख गण्मान्य  नागरिको जिसमे नगर पालिका अध्यक्श भ्राता अल्केश आर्य , पुलिस अधिक्षक बैतुल भ्राता राकेश जैन ,डा . मनीश लश्करे , जिल अवम सत्र न्यायाधिश तथा अनेक न्यायाधीशो सहित शहर के अनेक प्रतिश्ठित व्यापरियो ने झंकि के दर्शन किये और ब्रह्माकुमारिज कि जम्कर सराहना  की . साथ ही साथ आत्म दर्शन एवम परमात्म दर्शन के विडीयो द्वार अनेको को प्रभु सन्देश दिया गया . सेवाकेन्द्र संचालिक बी के मंजु बहन ने झांकी का आध्यात्मिक रहस्य बताकर सबको नवरात्रि पर्व की शुभ कामनाये . इस झांकी के निर्माण का निर्देशन बी के सुनिता बहन द्वारा किया गया . इस अवसर पर बी के मालती तथा बी के नन्द्किशोर भाइ भी उपस्थित थे.  ​

Media Conference at Betul (MP)

betul2

प्रेस विज्ञप्ति

सकारात्मकता के बिना समाज नही चल सकता – राजीव रंजन

बैतूल, 3 जुलाई – भारतीय प्रेस परिषद के सदस्य एवं प्रेस एसोसिएशन के अध्यक्ष, नई दिल्ली – भ्राता राजीव रंजन नाग ने कहा – बाजार वाद तथा टेक्नोलाॅजी के कारण मीडिया की प्राथमिताऐं बदली हैं। खबरें परोसने के अन्दाज में नकरात्मकता आयी है। आप ब्रह्माकुमारीज् के मीडिया प्रभाग द्वारा आयोजित मीडिया सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। आपने बताया प्रजातंत्र के होते हुये भी हमारे देश में पत्रकारो के लिए अन्य देषो की तरह कोई विषेष कानून नही है। ब्रह्माकुमारीज् के आयोजन की सराहना करते हुये उन्होने कहा कि पत्रकारो की चिन्ता करने वाला यह एक मात्र यह संगठन है।

मुल्यानुगत मीडिया के सम्पादक कमल दीक्षित ने मीडिया सम्मेलन को संबोधित करते हुये कहा कि 1980 के बाद की पत्रकारिता समर्थ लोगों के साथ खड़ी दिखाई देती है। उन्होने कहा सकारात्मकता कुछ और नही हम अपनी अन्तरात्मा की आवाज सुने और स्वस्थ्य समाज के निर्माण के लिए सकारात्मकता को बढ़ाने वाली खबरों को प्राथमिता दे। ब्रह्माकुमारीज् जैसे संगठन समाज में सकारात्मकता का माहौल बना रहे है। मूल्यानुगत मीडिया आज के समय की मांग है।

मुख्य अतिथि बैतूल विधायक भ्राता हेमंत खण्डेलवाल जी, ने भी संगोष्ठी को संबोधित किया।  उन्होने कहा कि सन-सनीखोज खबरो के बाद मन में निराषा और डिप्रेषन आता है इसलिए हम भय और निराषा का सम्प्रेषण ना करे तभी स्वस्थ्य समाज बनेगा । ब्रह्माकुमारीज् केे इस आयोजन की अपने भूरि -भूरि प्रषंसा की ।

इस आयोजन को ब्रह्माकुमार शान्तनु भाई, मीडिया प्रभाग के समन्वयक ने भी अपने वक्तव्य दिया। उन्होने इस सम्मेलन के आयोजन के उद्देष्य बताते हुये सभी मिडियाकर्मी बन्धुओं को सितम्बर मास में मांऊट आबू में आयोजित होने वाले मीडिया महासम्मेलन का निमंत्रण दिया।

ब्रह्माकुमारी उर्मिला बहन जी, सह सम्पादिका ज्ञानामृत , मांऊट आबू ने कहा कि समाज  को नई दिषा पत्रकार ही दे सकता है। हम अपनी लेखनी में भय,नकरात्मकता, बुराईयों को खत्म करने की बाते लिखे , यही सकारात्मक बदलाव होगा। इस संगोष्ठी को भ्राता इंदरचंद जी, जैन वरिष्ठ पत्रकार ने भी संबोधित दिया।

बैतूल सेवाकेन्द्र प्रभारी बी.के.मन्जू बहन ने सभी सम्मानित अतिथियों का आभार व्यक्त किया तथा सभी प्रतिभागी पत्रकारगणों को ईष्वरीय उपहार भंेट किया । ब्रह्माकुमारी सुनिता बहन ने सभी को योगभ्यास कराते हुए समापन किया। इस सम्मेलन का मंच संचालन बी.के.नन्दकिषोर ने किया । पूरे जिले भर के सभी शहरो पत्रकार एवं मीडियाकर्मी बन्धुओें द्वारा भाग लिया एवं ब्रह्माकुमारीज् की सराहना की।