मेरा बैतूल स्वच्छ स्वस्थ व्यसन मुक्त बैतूल


‘‘मेरा बैतूल स्वच्छ, स्वस्थ व्यसन मुक्त बैतूल’’

बैतूल- भारतीय गौरवशाली सांस्कृतिक विरासत तथा मानीवय मूल्यों को नारी शक्ति द्वारा एक वैश्विक आघ्यात्मिक क्रांती में बदलने वाली संस्था ब्रह्माकुमारीज् द्वारा ‘‘मेरा भारत स्वच्छ स्वस्थ व व्यसन मुक्त भारत’’ की थीम पर ही ‘‘मेरा बैतूल स्वच्छ, स्वस्थ व्यसन मुक्त बैतूल’’ अभियान स्थानीय ब्रह्माकुमारीज् द्वारा निकाला जा रहा है। आज इसका शुभांरभ माननीय विधायक ,श्री हेमंत खण्डेलवाल जी, द्वारा झंडी हिलाकर किया गया ।
इस अभियान में एक मिनी बस को व्यसन मुक्ति का रथ बनाया गया है जिसमें व्यसन मुक्ति की प्रर्दशनी लगी हुई है साथ ही बस के अन्दर आडियो-विडियो एवं फिल्म द्वारा व्यसनी मुक्ति का संदेश दिये जाते है। 15दिन दिन तक चलने वाले इस अभियान में 10-15 अभियान यात्री बैतूल जिले के गांव-गांव जाकर युवाओं को व्यसन मुक्ति का संदेश देगें।
विधायक खण्डेवाल जी ने इस मौके पर ब्रह्माकुमारीज् के इस कार्यक्रम की सराहना करते हुये कहा कि आज समाज में व्यसनी युवाओं की निरलज्ज भीड़ है जिन्हे बड़े ,बुजर्गो के मान मर्यादा की कोई चिन्ता नही है। शादी ,बारात में कुछ व्यसनी युवाओं के कारण बारात देर रात तक पहुॅचती है रोड़ पर टेªफिक जाम हो जाता है। शादी में बड़े बुजुर्गो के आशीर्वाद के बिना ही सम्पन्न होती है। यह व्यसनो का परिणाम है।
विश्व की सबसे अमूल्य धरोधर जो भारत के पास उपलब्ध है भारत के युवा शक्ति जो व्यसनों के ग्रास में समा रही है, तम्बाकू, गुटका, शराब, बीड़ी, सिगरेट एवं अन्य मादक द्रव्यों का सेवन वह कभी दोस्तों के संग में आकर ,कभी स्टेण्डर्ड मेन्टेन करने के खातिर तो कभी मानसिक तनाव के कारण शराबी बन जाता है जिससे जीवन ही बारबाद हो जाता है।
इस अवसर पर ब्रह्माकुमारी मंजू बहन ने अभियान का उद्देश्य समझाते हुए बताया कि अभियान में चलने वाले हमारे सभी बी.के.भाई-बहनें संयमित ,निव्र्यसनी ,सकारात्मक दृष्टिकोण वाले युवा है। अभियान की संचालिक ब्रह्माकुमारी सुनिता बहन ने बताया कि यशस्वी माननीय प्रधान मंत्री मोदी जी की प्रेरणा से भारत स्वच्छता अभियान एवं व्यसन मुक्ति अभियान गांव गांव जाकर युवाओं को नशा मुक्ति का संकल्प दिया जायेगा ,सेवाकेन्द्र पर नशा मुक्ति के फार्म भरवाये जायेगें एवं नशा मुक्ति की ग्लोबल होम्योपैथिक दवाईयां भी निःशुल्क दी जायेगंे तथा काउन्सलिग भी की जायेगी ।
इस अवसर पर जिला चिकित्सालय बैतूल से डाॅ. शैलेन्द्र सोनी ने भी संबोधित किया । इस कार्यक्रम का मंच संचालक बी.के.नन्दकिशोर भाई ने किया ।

इस अभियान में मिनी बस सजाकर व्यसनमुक्ती रथ बनाया गया जिसमें LCD के माध्यम से नशा मुक्ति की फिल्म दिखाई जाती थी और साथ ही रथ में लगी चित्र प्रदर्शनी के माध्यम से व्यसन मुक्ति का संदेश दिया जाता था।  इस अभियान में मुख्य रूप से आकर्षण का केंद्र बी के युवाओं के द्वारा तैयार किया गया नुक्कड़ नाटक रहा जिसके अंतर्गत विभिन्न प्रकार के नशों के दुष्परिणामों को बताया गया साथ ही ब्रह्माकुमारी बहनों ने अपने आध्यात्मिक प्रवचनों के द्वारा लोगों को व्यसनों और नशे से मुक्त कैसे रहे यह बताया और साथ ही युवाओं को व्यसन मुक्ति का संकल्प और शपथ दिलाई गई।  यह अभियान जिले के 101 गांवों में पहुंचा जहां 11280 लोगों ने इसका लाभ लिया । इस अभियान में 332 लोगों ने व्यसन से मुक्त होने का संकल्प लिया एवं नशे को त्यागा ।इस अभियान मे आदिवासी बाहुल्य गांवो मे जाकर 1 माह तक बी के युवाओ ने इस कार्यक्रम को सम्पन्न किया ।